Home > आज के समाचार > राजनीतिक दलों से उम्मीद ,युवा को दें राष्ट्रपति बनने का मौका

राजनीतिक दलों से उम्मीद ,युवा को दें राष्ट्रपति बनने का मौका

नई दिल्ली feb28(BNE) भारत के विभिन्न राज्यों से इकट्ठा युवाओं ने कॉन्स्टिट्यूशनल क्लब ऑफ़ इंडिया में ‘राष्ट्रीय युवा सशक्तिकरण संगोष्ठी’ में सभी राजनीतिक दलों से मांग करी कि वह अगले राष्ट्रपति के रूप में 39-वर्षीय युवा प्रेरक वक्ता एवं लेखक, शिशिर श्रीवास्तव को चुने .

पिछले सप्ताह आयोजित इस संगोष्ठी में श्रीवास्तव ने मुख्य वक्ता के रूप में ‘भारत में युवा: आशाएं, चुनौतियां और अवसर’ पर बोला। इस संगोष्ठी का आयोजन न्यू इंडिया बेटर इंडिया यूथ एसोसिएशन (NIBIYA) ने किया जो कि एक गैर-राजनीतिक एवं गैर-लाभकारी संगठन है जो भारत के युवाओं को सशक्त करने के लिए काम कर रहा है ।

शिशिर श्रीवास्तव ने 1980 से 1995 तक सी.एम.एस में शिक्षा ग्रहण करी तथा सन 2000 से जून 2016 तक सी.एम.एस. में कार्यरत भी रहे।

इस अवसर पर एक पैनल डिस्कशन का भी आयोजन किया गया जिसमें अभय आदित्य सिंह, प्रेजिडेंट, नगाड़ा फाउंडेशन (दिल्ली), देश दीपक द्वेदी, संस्थापक, Lithics.in (नई दिल्ली), संदीप कुमार शिंदे, युवा किसान, (वाई, महाराष्ट्र) व्हिटनी, विश्व शांति गायक (मिजोरम), कृष्णा पाल सिंह, युवा किसान (उत्तर प्रदेश), रुचिरा शर्मा, नार्थ ईस्ट फैशन प्रमोटर (मणीपुर) एवं अमित राय, शिक्षक (उत्तर प्रदेश) उपस्थित थे।

इस कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश, बिहार, दिल्ली एवं एनसीआर, महाराष्ट्र, मणिपुर, मिजोरम और पंजाब से युवा एकत्र हुए ।

अपने मुख्य वक्तव्य में शिशिर श्रीवास्तव, ने कहा कि भारत में युवाओं को युवाओं के लिए खड़े होने का समय अब आ गया है। उन्होंने कहा, “मेरा मानना है कि युवाओं में महान ऊर्जा छिपी है और हमारे भारत वर्ष में खेतों से लेकर शहरों तक और शहरों से लेकर देश तक करोड़ों प्रतिभावान युवा हैं जो कि हमारे देश और दुनिया को बदलने में सक्षम हैं। हमें तो बस उनकी ऊर्जा को सही दिशा में निर्देशित करना है।

एक पत्रकार ने उनसे प्रश्न किया कि “आप राष्ट्रपति बनने के बाद युवाओं के लिए क्या करेंगे?” इस पर श्रीवास्तव ने कहा,”मैं 21वीं सदी के एक नव-भारत के निर्माण हेतु युवा पीढ़ी को निरंतर प्रेरित करता रहूंगा और विश्व एकता के लिए काम करूंगा।”

यदि शिशिर श्रीवास्तव को राष्ट्रपति पद के लिए मनोनीत किया जाता है और वह निर्वाचित होतें है तो यह भारत के इतिहास है में पहली बार होगा की एक युवा व्यक्ति राष्ट्रपति बनेगा।

bne

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *